Breaking NewsPopularअंतरराष्‍ट्रीयटूरिज्मताजा खबरन्यूज़बड़ी खबर

एयर इंडिया की 155 उड़ानों में आज औसत 2 घंटे की देरी होगी, 5 घंटे सर्वर डाउन रहने का असर

  • एयर इंडिया ने कहा- रात 8.30 बजे तक की उड़ानें प्रभावित होंगी 
  • सुबह 3.30 से 8.45 बजे तक पैसेंजर सर्विसेज सिस्टम डाउन रहा

नई दिल्ली. एयर इंडिया का सर्वर 5 घंटे डाउन रहने की वजह से आज 155 उड़ानों में औसतन 2 घंटे की देरी होगी। रात 8 बजकर 30 मिनट तक जो उड़ानें शेड्यूल हैं उन पर असर पड़ेगा। एयरलाइन ने यह जानकारी दी है। एयर इंडिया समूह हर रोज करीब 674 उड़ानें संचालित करता है।

Twitter पर छबि देखें

रात तक स्थिति सामान्य होने की उम्मीद

एयर इंडिया का पैसेंजर सर्विसेज सिस्टम शनिवार सुबह 3.30 से 4.30 बजे के बीच डाउन हुआ था। सुबह 8 बजकर 45 मिनट पर सिस्टम ठीक हो गया। एयरलाइन के सीएमडी अश्विनी लोहानी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया है कि रात तक स्थिति पूरी तरह सामान्य होने की उम्मीद है। डाउन टाइम में एयरलाइन यात्रियों को बोर्डिंग पास जारी नहीं कर पा रही थी। फ्लाइट्स में देरी से यात्रियों को हुई परेशानी के लिए एयर इंडिया ने माफी मांगी है।

यात्रियों को सोशल मीडिया, कॉल सेंटर के जरिए सूचित कर रहे: एयर इंडिया

लोहानी का कहना है कि सोशल मीडिया और कॉल सेंटर के जरिए प्रभावित यात्रियों को सूचना देने की कोशिश की जा रही है। लेकिन भारी संख्या होने की वजह से हो सकता है कि कॉल सेंटर सभी यात्रियों को सूचित नहीं कर पाए। जिन यात्रियों की फ्लाइट छूटेगी उन्हें होटल में ठहराने के इंतजाम किए जाएंगे या उन्हें एयर इंडिया या अन्य एयरलाइन की दूसरी फ्लाइट में शिफ्ट किया जाएगा।

सिस्टम डाउन होने की वजह की जांच की जा रही है। एयर इंडिया एसआईटीए कंपनी का पैसेंजर सर्विसेज सिस्टम इस्तेमाल करती है। देश में कोई और एयरलाइन यह सिस्टम इस्तेमाल नहीं करती। लोहानी से पूछा गया कि क्या एसआईटीए एयर इंडिया की सेवाएं बाधित होने की भरपाई करेगी। उन्होंने कहा कि इस मामले में विचार किया जाएगा।

पिछले साल 23 जून को भी एयरलाइन के चेक-इन सॉफ्टवेयर में इस तरह की तकनीकी दिक्कत आई थी। इससे 25 घरेलू उड़ानों में देरी हुई थी।

 

( “द संडे हेडलाइंस” के यहां क्लिक कर सकते हैं आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं ) 

Tags
Show More
[whatsapp_share]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close