Breaking Newsताजा खबरदिल्लीदेशपंजाबहरियाणा

सरकार नहीं कर रही कोई मदद,इसलिए पराली जलाने पर मजबूर : किसान

जैसे ही दिल्ली से सटे इलाको में धान की कटाई ख़त्म हुई हैं वैसे ही किसानो ने अपने अपने खेतो में पराली जलानी शुरू कर दी हैं. पंजाब और हरियाणा के किसानो ने बड़े गुपचुप तरीके से खेत की पराली को आग के हवाले कर दिया है.

     à¤ªà¤°à¤¾à¤²à¥€ के प्रदूषण से प्रभावित हो रही है ग्रामीण बच्चों की सेहत

किसानो ने केंद्र सरकार पर भी बेहद गंभीर आरोप लगाते हुए कहा की केंद्र सरकार बस बड़े बड़े दावे करती है जो जमीनी हक़ीक़त से बहुत दूर रह जाते है उन्होंने कहा की केंद्र सरकार ने उन्हें कोई भी आर्थिक मदद मोहिया नहीं करा पा रही और ना ही पराली को ठिकाने लगाने के लिए कोई मशीन दी गयी है तो किसान को मजबूर होकर पराली जलानी पड़ रही है.

        Related image

मोहाली के एक किसान तरनजीत से मीडिया ने जब पराली प्रंबंधन के बारे में पहुंचा तो उन्होंने चुप रहना ही ठीक समझा उनकी इस चुप्पी को हम पराली प्रंबंधन की नाकामी समझ सकते है.

नासा की ओर से जारी ताज़ा चित्रों के मुताबिक, पराली जलाने के मामलों को दर्शाने वाले लाल बिंदु पिछले साल की तुलना में कम हैं लेकिन किसान अभी भी पराली जला रहे हैं.

पंजाब के प्रदूषण नियंत्रण विभाग ने सितंबर से अक्टूबर के बीच अभी तक पराली जलाने के 40 मामले दर्ज किए हैं. इनमें 34 मामले अमृतसर जिला में, चार पटियाला के राजपुरा में, होशियारपुर में और एक संगरूर में दर्ज किए गए हैं. सरकार को अंदेशा है कि अक्टूबर के दूसरे हफ्ते में जब धान की कटाई जोरों पर होगी तो राज्य में पराली जलाने के ज्यादा मामले सामने आ सकते हैं.

Image result for parali pollution

दर्ज किए गए 40 मामलों में राजस्व विभाग ने अमृतसर जिले के नाग कला और अजायबवाली गांवों के 14 किसानों का चालान काटा है. दो एकड़ तक 2500, तीन से पांच एकड़ तक 5500 और पांच एकड़ से अधिक पराली जलाने पर 7500 रुपए जुर्माना भरने को कहा गया है.

Image result for parali pollution

पंजाब सरकार की ओर से केंद्र सरकार को दिए गए आंकड़ों के मुताबिक, राज्य में 2016 और 2017 के दौरान पराली जलाने के मामलों में कमी आई है. 2016 में पराली जलाने के 80,879 मामले सामने आए थे, वे 2017 में घटकर 43,817 रह गए.

THE SUNDAY HEADLINES )ख़बरों से अपडेट रहने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं

आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर & LinkedIn पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

THE SUNDAY HEADLINES

Show More
Share On Whatsapp

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Social Media Auto Publish Powered By : XYZScripts.com
Close